लड़का बनकर युवती ने दो लड़कियों से की शादी, गिरफ्तार

0
56

सीतापुर की कथित कारोबारी लड़की ने हल्द्वानी और कालाढूंगी की दो लड़कियों को झांसे में लेकर न सिर्फ ब्याह रचा लिया, बल्कि दहेज के लिए प्रताड़ित भी किया। मुकदमा दर्ज होने के बाद चार महीने तक चली जांच के बाद बुधवार को पुलिस ने आरोपी लड़की को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

काठगोदाम पुलिस के अनुसार वर्ष 2013 में यूपी के सीतापुर जिला निवासी युवती कृष्णा सेन (26) ने फेसबुक में लड़के की आईडी बनाकर काठगोदाम क्षेत्र निवासी एक युवती को प्रेम जाल में फांसा। 14 फरवरी 2014 को दोनों से गाजे-बाजे के साथ शादी रचाकर साथ तिकोनिया क्षेत्र में किराये का घर लेकर रहना शुरू कर दिया। विवाहेत्तर संबंधों को लेकर दोनों में अनबन रहने लगी।

आरोप है कि इसी दौरान ने कृष्णा ने कालाढूंगी तहसील में बल्ब फैक्ट्री लगाने का झांसा देकर ससुरालियों से 8.50 लाख रुपये ऐंठ लिए। बात काफी बिगड़ने पर कृष्णा ने 29 अप्रैल 2016 को कालाढूंगी निवासी एक और इंटरमीडिएट छात्रा को झांसा देकर शादी रचा ली। बाद में दोनों कथित पत्नियों को धमकाकर तिकोनिया स्थित घर में साथ ही रख लिया।

चार महीने जांच के बाद हुई गिरफ्तारी

शक होने पर पहली शादी वाली युवती का भाई तिकोनिया से अपनी बहन को घर ले आया। अक्तूबर 2017 में काठगोदाम निवासी पत्नी ने आरोप कृष्णा पर दहेज उत्पीड़ का मुकदमा दर्ज करा दिया। करीब चार महीने चली पुलिस की जांच के बाद मंगलवार रात को आरोपी कृष्णा को गिरफ्तार कर लिया।

दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज होने पर जब पुलिस ने जांच के बाद आरोपी कृष्णा को गिरफ्तार किया तो जेल जाने के डर से उसने सच बोल दिया। कृष्णा ने पुलिस के सामने कबूल किया कि वह पुरूष नहीं महिला है। यह सुनकर पुलिस और युवती और परिवार के होश उड़ गए। मेडिकल जांच में आरोपी की बात सही निकली।

काठगोदाम एसएसआई संजय जोशी ने बताया कि दहेज उत्पीड़न की धाराओं को बदल कर धोखाधड़ी और फर्जी सरकारी दस्तावेज बनाने आदि का मुकदमा दर्ज कर आरोपी को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया है।

You May Like This

LEAVE A REPLY