ट्रक को ओवरटेक करने में गई युवक की जान

0
33

रानीखेत-कर्णप्रयाग हाईवे पर ओवरटेक की कोशिश में अनियंत्रित बाइक से गिरे युवक को ट्रक ने कुचल दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जबकि साथी युवक दूर छिटकने से घायल हो गया है। गुस्साए परिजन व ग्रामीणों ने शव हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया।

दरअसल, चैखुटिया निवासी विक्रम सिंह (26 वर्ष) शनिवार को गांव के ही भूपेंद्र सिंह के साथ बाइक से रानीखेत आया था। रिश्तेदारी में धार्मिक कार्यक्रम का न्यौता देने के बाद कफड़ा में एक विवाह समारोह में शामिल हुआ। यहां से दोनों अपने गांव के लिए रवाना हुए। राष्ट्रीय राजमार्ग पर तल्ली-मल्ली मिरई के बीच एक ट्रक को ओवरटेक करने के प्रयास में बाइक चला रहा भूपेंद्र नियंत्रण खो बैठा और बाइक रपट गया। तभी ट्रक के पिछले टायर ने उसे कुचल दिया।

हादसे की खबर मिलते ही चैखुटिया स्थित गांव से गुस्साए ग्रामीण घटना स्थल पर पहुंच गए। हंगामा काटा। उन्होंने कहा, सूचना के एक घंटे बाद पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचा। आपातकालीन 108 सेवा भी नदारद रही। जनाक्रोश तब और भड़क उठा जब डीएम को फोन करने पर कोई आश्वासन नहीं मिला। परिजनों का आरोप था कि जिलाधिकारी ने फोन बंद कर दिया। इससे नाराज ग्रामीणों ने शव नहीं उठने दिया। जाम लगा डीएम के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी गई। वहीं कुछ समय बाद गुस्साए लोगों ने मौके पर डीएम को बुलाने की मांग उठाई। जिसके बाद देर रात डॉक्टरों की टीम घटनास्थल पर पहुंची। साथ ही परिजन भी शव के पोस्टमार्टम के लिए तैयार हुए। जिसके बाद जाम खुलने की संभावना बन गई।

शव नहीं उठाने से हाईवे पर लगा जाम

सूचना पर चैखुटिया वासी परिजन और ग्रामीण मौके पर पहुंचे। उन्होंने शव नहीं उठाने दिया। जिससे हाईवे जाम लग गया। इस दौरान ग्रामीणों ने डीएम पर फोन बंद करने का आरोप ऊभी लगाया। उधर, पूर्व विधायक मदन बिष्ट जहां ग्रामीणों के पक्ष में खड़े होकर व्यवस्था पर सवाल उठाने लगे वहीं मौजूदा विधायक महेश नेगी ने फरार ट्रक ड्राइवर की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया।

You May Like This

LEAVE A REPLY