महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शराब की दुकान खोलने के खिलाफ जमकर की नारेबाजी

0
66

भाबर क्षेत्र के अंतर्गत दुर्गापुरी में शराब की दुकान खोले जाने का विरोध तेज हो गया है। इसी क्रम में महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शराब की दुकान खोले जाने के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए तहसील में विरोध प्रदर्शन किया और उपजिलाधिकारी के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया।

इस अवसर पर महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष रंजना रावत ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार अब शराब को अपना मुख्य धंधा बनाकर युवाओं को नशेड़ी बना रही है। दुर्गापुरी के मुख्य बाजार में क्षेत्रीय विधायक की शह पर शराब की दुकान खोले जाने से क्षेत्र में अशांति का वातावरण बनाने का प्रयास किया जा रहा है। कहा कि प्रदेश सरकार विकास के मुद्दों से भटक गयी है, तथा खनन एवं शराब के ठेकों के माध्यम से अपने परिवार एवं अपने चहेतों को फायदा पहुचाने का एक सूत्रीय कार्य कर रही है।

शराब की दुकान खुलने से माहौल बिगड़ने की है आशंका

जबकि चुनावी घोषणा पत्र में भाजपा ने क्षेत्र के चहुंमुखी विकास का वादा किया था। महिलाओं ने कहा कि दुर्गापुरी में किसी भी कीमत पर शराब की दुकान नहीं खोलने दी जायेगी। दुर्गापुरी क्षेत्र में कई स्कूल हैं और शराब की दुकान खुलने से माहौल बिगड़ने की आशंका है। कहा कि यदि शासन प्रशासन के द्वारा जोर जबरदस्ती की गयी तो महिलायें उग्र आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेंगी।

इस मौके पर रजनी पटवाल, कुसुम असवाल, कमला शाह, सुनीता देवी, कविता देवी, कौशल्या देवी, विमला देवी, पिंकी, सरोजनी देवी, लक्ष्मी देवी, निर्मला सैनी, सुधा असवाल, विनीता भारती, शहनाज शम्सी, नंदी देवी, अनिता देवी, मुन्नी देवी, आशा देवी सहित सैकड़ों महिलाएं मौजूद थी।

You May Like This

LEAVE A REPLY