महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरूषों से कम नहींः आशीष

0
67

जिले भर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया। जगह-जगह विचार गोष्ठियों का आयोजन किया गया। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि महिलाओं को समाज में बेहतर सम्मान देने और उनके विकास के लिए ठोस प्रयास करने की जरूरत है। तभी महिला दिवस की सार्थकता सही मायनों में साबित हो पाएगी।

सर्वशिक्षा अभियान की ओर से डायट में विचार गोष्ठी के बाद मां-बेटी मेले का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जिलाधिकारी ईवा आशीष ने कहा कि महिलाओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहने की आवश्यकता है। उन्होंने महिलाओं को महिला दिवस की शुभकामनाएं दी। कहा कि आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरूषों से कम नहीं हैं। इस मौके पर सर्व शिक्षा अभियान की ओर से जिलाधिकारी समेत विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रही महिलाओं को सम्मानित किया।

डायट के प्रशिक्षुओं, स्कूली बच्चों तथा योगदान सांस्कृतिक समिति के कलाकारों ने बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ समेत अनेक विषयों पर कार्यक्रम पेश किए। इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सविता ह्यांकी, डॉ. भीमा मनराल, मुक्ता, विनीता वर्मा, डीईओ एचबी चंद, आरएस यादव, डॉ. राजेंद्र सिंह, समन्वयक पी कुमार, प्रेरणा गुरूरानी, विनोद राठौर, बीइओ सुरेश आर्या, नेत्र बल्लभ फुलारा आदि मौजूद थे। संचालन ब्लॉक समन्वयक विद्या कनार्टक ने किया।

समाज के हर क्षेत्र में उन्नति कर रही हैं महिलाएं

अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति की ओर से इस मौके पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें समिति की राज्य महासचिव सुनीता पांडे ने कहा कि महिलाओं को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने के लिए आज और अधिक प्रयासों की जरूरत है। कहा कि वर्तमान में महिलाएं समाज के हर क्षेत्र में उन्नति कर रही हैं। ऐसे में अगर उन्हें और अधिक प्रोत्साहन दिया जाएगा तो वह अपनी प्रतिभा से देश के लिए और मजबूती से प्रयास कर सकेंगी।

You May Like This

LEAVE A REPLY