नकली एलईडी बेच रहे दो व्यापारी गिरफ्तार

0
43

विकासनगर में चंडीगढ़ की एक ब्रांडेड कंपनी ने सहसपुर थाने को तहरीर देकर बताया कि सहसपुर बाजार में दो व्यापारी उनकी कंपनी के ब्रांड के नाम पर नकली एलईडी बेच रहे हैं। सहसपुर पुलिस ने कंपनी के ऑपरेशन हेड को साथ लेकर सहसपुर बाजार में दुकानों पर छापेमारी कर दो इलेक्ट्रोनिक्स की दुकानों पर कंपनी के ब्रांड पर बेचे जा रहे 12 नकली एलईडी पकड़े। पुलिस ने दोनों दुकानों के व्यापारियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कॉपी राइट एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है।

शुक्रवार को स्पीड नेटवर्क इंटेक्स कंपनी चंडीगढ़ के ऑपरेशन हेड राजेश शर्मा ने सहसपुर थाने में पहुंचकर तहरीर दी कि सहसपुर बाजार में उनकी कंपनी के ब्रांड पर कुछ व्यापारी नकली एलईडी बेचकर ग्राहकों, कंपनी व सरकार को नुकसान पहुंचा रहे हैं। जिस पर सहसपुर पुलिस ने ऑपरेशन हेड राजेश शर्मा को लेकर सहसपुर बाजार में छापेमारी की। इस दौरान जेएमडी इलेक्ट्रोनिक्स नाम की दुकान पर नौ एलईडी पुलिस ने बरामद किये। इन एलईडी पर इंटेक्स कंपनी के स्टीकर लगे थे।

पुलिस ने एक और दुकान अहमद टेलीकॉम एवं इलेक्ट्रोनिक्स पर मारा छापा

व्यापारी सचिन कालरा पुत्र कश्मीरी लाल कालरा निवासी सहसपुर को गिरफ्तार किया। इसके बाद पुलिस ने एक और दुकान अहमद टेलीकॉम एवं इलेक्ट्रोनिक्स पर छापा मारा। इस दुकान पर तीन पाइरेटेड एलईडी मिले। पुलिस ने आरोपी दुकानदार नफीस अहमद पुत्र मकसूद अहमद निवासी सहसपुर को गिरफ्तार कर तीनो एलईडी कब्जे में लिए। एसओ सहसपुर नरेश कुमार राठौर ने बताया कि दोनों दुकानों पर पकड़े गये 12 एलईडी की कीमत करीब दो लाख रुपये है।

बताया कि दोनों आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि देहरादून व सहारनपुर से नकली एलईडी सस्ते दामों पर लाकर ग्राहकों को ब्रांडेड कंपनी के नाम पर बेचते हैं। जिससे उनकी अच्छी आय हो जाती है। बताया कि दोनों आरोपियों के खिलाफ कॉपी राइट एक्ट में मुकदमा दर्ज किर दिया है। बताया कि शनिवार को दोनों को कोर्ट में पेश किया जायेगा।

You May Like This

LEAVE A REPLY