बंद मकान के कमरे में दिखे गुलदार के दो शावक, लोगों के छूटे पसीने

0
39

बिंता क्षेत्र के पारकोट गांव के एक मकान के निचले कमरे में गुलदार के दो नवजात देखे जाने से सनसनी फैल गई। बंद मकान के कमरे में ही बच्चे जने जाने की बात सामने आई है। ग्रामीणों ने वन विभाग के सोमेश्वर रेंज में इसकी सूचना दी। लेकिन फिर भी वन विभाग अभी तक मौके पर नहीं पहुंचा है, जिससे ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।

ग्रामीणों के अनुसार पारकोट के नागैर तोक निवासी विनोद जोशी के खाली पड़े मकान के निचले मंजिले (गोशाला) से दो तीन दिन ग्रामीणों ने गुलदार को घूमते देखा गया। सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश साह और नवीन तिवारी ने बताया कि बुधवार को गुलदार को घर से निकलते देखा। उसके बाद मकान का निरीक्षण किया तो निचले कक्ष में दो नवजात शावक दिखे। जिसकी सूचना वन विभाग के सोमेश्वर रेंज को दी गई।

सूचना के बाद भी मौके पर नहीं पहुंचे विभागीय अधिकारी और कर्मचारी

उन्होने बताया कि सूचना के बाद भी विभागीय अधिकारी और कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचे। जिस कारण ग्रामीणों में भय और असंतोष व्याप्त है। उनका कहना है कि गुलदार ने पिछले एक सप्ताह में गांव के कुछ कुत्तों को निवाला बनाया। अब कहीं महिलाओं और बच्चों पर न झपट पड़े, इसका खतरा बना हुआ है।

You May Like This

LEAVE A REPLY