आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होताः दिनेश शर्मा

0
25

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा की आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता। आज लखनऊ में आतंकवाद के विरोध में शिया सूफी कॉन्फ्रेंस का अच्छा संदेश पूरे देश में जायेगा। दिनेश शर्मा मौलाना कल्बे जवाद के नेतृत्व में बड़े इमामबाड़े में शिया सूफी एकता कॉन्फ्रेंस संबोधित कर रहे थे। इसमें कोलकाता, दिल्ली, मुमबई, मालेगाव, अजमेर, कानपुर, सीतापुर समेत कई प्रदेश और जनपदों के लोग आये थे। स्त्री-पुरुषों को बड़ी शामिल होने के लिए पहुंचे लोगों से बड़ा इमामबाड़ा की फिजा जिंदाबाद के नारों से गूंज रही थी।

सूफी संतों ने दिखाया देश को रास्ता

दिनेश शर्मा ने कहा कि यह कॉन्फ्रेंस इस बात के जूनून को साबित करता है कि देश का अल्पसंख्यक अपने मादरे वतन के लिए कितना गंभीर है मुसलमान कुरआन की शिक्षाओं पर अमल करता है उन्होने कहा कि हुसैनी वह है जो आतंकवाद का मुकाबला करता है और अपना सब कुछ मानवता पर वयोछावर कर देता है।

दिनेश शर्मा ने जंगे आजादी में मुसलमानों का जिक्र करते हुए कहा कि बहादुर शाह जफर अंग्रेजों का मुकाबला करने को खड़े हुए। सूफी संतों ने देश को रास्ता दिखाने का काम किया है बेगुनाहों का कत्ल इस्लाम में मना है उन्होने नवाबीने अवध के दौर में राम लीला और ईदगाह का जिक्र करते हुए कहा की नवाब आसिफुद्दौला ने एक तरफ राम लीला तो दूसरी तरफ ईदगाह के लिए जगह दी थी यही नहीं कई साल तक सरकारी खजाने से राम लीला भी होती रही।

You May Like This

LEAVE A REPLY