सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा मिलेः गडकरी

0
85

देश में सार्वजनिक परिवहन को सुधारने के लिए ट्रांसपोर्ट फार लंदन (टीएफएल) के साथ परिवहन मंत्रालय के समझौते के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए गडकरी ने कहा, हम लंबे समय से एक ऐसी अच्छी नीति की जरूरत महसूस कर रहे हैं जिससे सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा मिले। नीति का मकसद ऐसे सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा देना होना चाहिए जो इलेक्ट्रिक अथवा एथनॉल व मेथनॉल जैसे वैकल्पिक व कम प्रदूषणकारी ईधन पर चलता हो। क्योंकि प्रदूषण देश की प्रमुख समस्या बन गया है। इससे प्रदूषण पर अंकुश के अलावा पेट्रोलियम के आयात में भी कमी आएगी।

गडकरी ने कहा कि टीएफएल के साथ समझौते से सड़क मंत्रालय राज्यों को उनकी सार्वजनिक परिवहन प्रणालियों में सुधार के लिए प्रेरक, प्रोत्साहक व सहायक के तौर पर कार्य कर सकेगा।

विश्व की सर्वश्रेष्ठ व सक्षम प्रणालियों से सीखना होगा

देश की सार्वजनिक परिवहन प्रणालियों में सुधार लागू करने के लिए हमें विश्व की सर्वश्रेष्ठ व सक्षम प्रणालियों से सीखना होगा और तदनुसार अपनी क्षमताओं का निर्माण करना होगा। इससे राज्य परिवहन निगमों की स्थिति में सुधार हो सकता है।

टीएफएल ग्रेटर लंदन में परिवहन प्रणाली का प्रबंधन करती है। इसने पीपीपी माडल के आधार पर बसों के संचालन का ऐसा तंत्र विकसित किया है जिसमें 17 बस आपरेटर एक ही ब्रांड के अंतर्गत बसों का संचालन करते हैं। इसके तहत डबल डेकर बसें चलाई जाती हैं जो कम जगह घेरने के बावजूद ज्यादा सवारियों को ढोती हैं।

टीएफएल बड़ी संख्या में इलेक्ट्रिक व हाइब्रिड बसों का संचालन भी करती है। इन बसों में चलने के लिए टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग के अलावा साझा मोबिलिटी कार्ड जारी किए जाते हैं।

You May Like This

LEAVE A REPLY