गन्ना तुलाने को लेकर चीनी मिल में चली गोलियां

0
55

नारसन के लिब्बरहेड़ी चीनी मिल में पहले गन्ना तुलवाने को लेकर दो किसानों के बीच जमकर मारपीट हुई। बाद में दोनों ने अपने पक्ष में कुछ लोगों को बुला लिया। इस दौरान हुई फायरिंग में एक किसान घायल हो गया। जिससे मौके पर अफरातफरी मच गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को कब्जे में ले लिया है। घायल किसान को रुड़की से मेरठ रेफर किया गया है।

खेड़ाजट गांव निवासी आकाश और ब्रह्मापुर गांव निवासी राजीव किसान हैं। दोनों गन्ने की आपूर्ति करने के अलावा चीनी मिल के क्रय केंद्र से भी किराये पर मिल तक गन्ने का ढुलान करते हैं। रात को दोनों ही ट्रैक्टर-ट्रालियां लेकर चीनी मिल में पहुंचे। इस दौरान पहले गन्ने की ट्रॉली तुलवाने को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया।

पहले तो दोनों में गाली-गलौज हुई। इसके बाद मामला मारपीट पर जा पहुंचा। इसी बीच दोनों ने अपने साथियों को बुला लिया। दोनों के साथी जैसे ही चीनी मिल में पहुंचे तो झगड़ा शुरू हो गया। इसके बाद दोनों पक्षों में फायरिंग हो गई।
गोलियों की आवाज से चीनी मिल में अफरातफरी मच गई। इस घटना में राजीव को गोली लग गई। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। मौके पर पहुंची पुलिस ने दो ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को कब्जे में लेकर कोतवाली में खड़ा किया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक गिरीश चंद्र शर्मा ने बताया कि राजीव के पिता बृजपाल की ओर से घटना की तहरीर पुलिस को दी गई है। पुलिस हमलावरों की तलाश कर रही है।

पहले भी हो चुके हैं झगड़े

लिब्बरहेड़ी चीनी मिल में कई बार इस तरह के झगड़े हो चुके हैं। बावजूद इसके यहां पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं हैं। पिछले साल भी यहां हुई एक घटना में किसान का सिर फोड़ दिया गया था। इसके अलावा पेराई सत्र में भी नारसन और पुरकाजी के किसानों के बीच झगड़ा हो चुका है।

You May Like This

LEAVE A REPLY