एनएसयूआई ने कालेजों में की तालाबंदी और नारेबाजी

0
101

शुक्रवार को शीतकालीन अवकाश के चलते महाविद्यालयों की छूटी परीक्षाओं को लेकर एनएसयूआई ने कालेजों में तालाबंदी कराई। डीएवी, डीबीएस, एसजीआरआर और एमकेपी पीजी कालेजों में एनएसयूआई ने विभागों में तालेबंदी कर कालेज और विवि के खिलाफ नारेबाजी की।एनएसयूआई संगठन के कार्यकर्ताओं कालेज परिसर में विभागों में ताला बंदी कर प्राचार्य का घेराव किया।

मालूम हो कि जनवरी माह में शीत कालीन अवकाश के संशय के चलते महाविद्यालयों ने अवकाश घोषित कर दिया था। जिसके चलते डीएवी समेत दून के किसी भी कॉलेज में परीक्षाएं नहीं हो पाई। छूटी परीक्षाओं के कारण छात्रों की पढ़ाई में लगातार हो रही बधा के चलते संगठन ने नारे बाजी कर कालेज और गढ़वाल विश्वविद्याल के खिलाफ प्रदर्शन किया। डीएवी कालेज में एनएसयूआई व प्रशासन के बीच चलते संघर्ष के बीच विपक्षी संगठन विद्यार्थी परिषद ने एनएसयूआई का विरोध करना शुरू कर दिया।

दोनों गुटों के बीच काफी बहसबाजी हुई। स्थिति धक्कामुक्की तक पहुंच गई थी। इसके बाद एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को विभाग के ताले खोलने पड़े। एनएसयूआई ने डीएवी प्राचार्य देवेंद्र भसीन का घेराव कर छूटी परीक्षाओं का नया कार्यक्रम अतिशीघ्र लागू करने को कहा। प्राचार्य ने संगठन को इस पर जल्द कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। उन्होंने बताया गढ़वाल विवि परीक्षओं के लिए प्रस्तावित समय सारणी भेजी गई है।

छात्रों की पढ़ाई लगातार हो रही बाधित

21 फरवरी के बाद परीक्षाएं यथावत संपन करवायी जायेंगी। डीबीएस कालेज में एनएसयूआई संगठन ने विवि और कालेज के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर विरोध जताया। महासचिव मानसी राणा ने कहा कि छात्रों की पढ़ाई लगातार बाधित हो रही है। अब और विलंभ सहा नहीं जायेगा। अगर जल्द कार्यवाही नहीं हुई तो संगठन कालेज परिसर के खिलाफ सड़कों पर प्रदर्शन करेगा।

You May Like This

LEAVE A REPLY