अल्मोड़ा के अधिकतर नौलों का पानी सीधे पीने योग्य नहीं

0
151

जंल संस्थान के परीक्षण में अधिकतर नौलों के पानी सैंपल फेल

अल्मोड़ा। अल्मोड़ा नगर के अधिकतर नौलों और धारों का पानी पीने योग्य नहीं है वह संक्रामक रोग उत्पन्न कर सकता है। नौलों व धारों के पानी के परीक्षण के बाद जल संस्थान ने नगर के अधिकतर नौलों धारों के पानी के सेंपल फेल पाए है। जिसके बाद जल संस्थान ने लोगों से नौलों और धारों के पानी को सीधे प्रयोग न करने की सलाह दी है।
जल संस्थान के अधीक्षण अभियंता केएस खाती ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा है कि वर्षा ऋतु के दौरान नगर के सभी नौले व धारों के पाने का परीक्षण कराने के बाद केवल रानीधारा नौला एवं पातालदेवी नौले का पानी ही सीधे पीने योग्य पाया गया है। इसके अलावा उन्होंने नगर के अन्य सभी नौले व धारों का पानी संक्रमित होना बताया है। उन्होंने पानी को दो बार उबाल कर पीने की सलाह दी है। वहीं उन्होंने कहा है कि जल संस्थान के नलों से घरों में आ रहे पानी को भी इस दौरान उबाल कर प्रयोग किया जाय। क्योकि वर्षा के कारण कोसी नदी में सिल्ट आ रही है जिससे पेयजल पंपिंग व्यवस्था में व्यवधान आ रहा है और सिल्ट युक्त कच्चा जल प्राप्त हो रहा है। जल संस्थान,  लोगों को पानी शोधित और परीक्षण के बाद उपलब्ध करा रहा है लेकिन वर्षा ऋतु में पेयजल का प्रयोग उबालकर ही करना चाहिए।

You May Like This

LEAVE A REPLY