यूपी-बिहार जैसे राज्यों की वजह से पिछड़ रहा देशः अमिताभ कांत

0
41

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कहना है कि देश के दक्षिणी और पश्चिमी राज्य तो तेजी से विकास कर रहे हैं, लेकिन बिहार, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों की वजह से देश पिछड़ रहा है। सोमवार को दिल्ली के जामिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में अब्दुल गफ्फार खान पर आयोजित पहले मेमोरियल लेक्चर पर उन्होंने यह बातें कहीं।

उनका कहना है कि पूर्वी भारत के राज्य खासकर बिहार, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में यह पिछड़ापन सामाजिक स्तर पर ज्यादा नजर आता है। हमने इज ऑफ डूइंग बिजनेस की रैकिंग में कई पायदान ऊपर चढ़े हैं तो मानव विकास सूचकांक में अभी भी काफी पिछड़े हुए हैं। 188 देशों की सूची में हमारा नंबर 131 है।

शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में पिछड़ रहा है देश

सतत विकास की महत्ता पर जोर देते हुए कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य ऐसे दो क्षेत्र हैं जहां देश पिछड़ रहा है। हमारे स्कूलों की पढ़ाई पिछड़ रही है। कक्षा पांच का छात्र कक्षा दो के घटाव नहीं कर सकता है, वह अपनी मातृभाषा भी ठीक से नहीं पढ़ पाता है। शिशु मृत्युदर बढ़ी है। जब तक हम इन सभी पहलुओं पर ध्यान नहीं देंगे, तब तक नियमित तौर पर विकास मुश्किल है।

‘चैलेंजस ऑफ ट्रांसफॉर्मिग इंडिया’ विषय पर बोलते हुए अमिताभ कांत ने कहा कि देश के दक्षिणी और पश्चिमी हिस्से सामाजिक इस दिशा में काफी बेहतर और तेजी से काम कर रहे हैं। जब हम मानव विकास सूचकांक में बेहतर करने की बात करते हैं तो हमारा ध्यान इन सामाजिक पहलुओं पर होना चाहिए।

इसके लिए हम इस विषय पर जिलों पर आधारित कार्यक्रम चला रहे हैं। इस मौके पर नीति आयोग के सीईओ ने निर्णय लेने की प्रक्रिया में महिलाओं की भागीदारी की वकालत की।

You May Like This

LEAVE A REPLY