पर्वतीय क्षेत्रों में मूसलधार बारिश बनी आफत

0
29

रानीखेत में मानिला के पर्वतीय क्षेत्रों में मूसलधार बारिश आफत बन गई। सल्ट विकासखंड के सुदूर भटडुवा तोक में अतिवृष्टि से पुराना पारंपरिक दोमंजिला धराशायी हो गया। तेज आवाज होने पर भूतल स्थित रसोई में भोजन के लिए जुटे परिजन भाग कर आंगन में पहुंच गए। इससे जनहानि टल गई। अलबत्ता दूसरे माले में रखा राशन व अन्य कीमती सामान मलबे में दबकर नष्ट हो गया।

बाल बाल बच गए सभी लोग

मामला बीती रात्रि का है। अतिवृष्टि से भिकियासैंण तहसील के डढोली ग्राम पंचायत के भटडुवा तोक में ललित कुमार पुत्र गंगा राम के दूसरे मंजिल की छत ध्वस्त हो गई। गृहस्वामी के अनुसार हादसे के समय परिवार के सभी सदस्य निचले हिस्से में बने रसोईघर में भोजन बनाने व खाने की तैयारी कर रहे थे। तभी अचानक तेज आवाज हुई। घबरा कर सभी परिजन बाहर की ओर भागे। छत पर बिछे पटाल एक एक कर गिर रहे थे। इससे पहले की पूरी छत भरभरा कर गिरती, सभी लोग आंगन में आ चुके थे। इससे लोग बाल बाल बच गए। प्रभावित परिवार ने गांव में ही रहने वाले अपने बड़े भाई के घर में शरण ली है।

भिकियासैंण में एसडीएम गौरव चटवाल ने कहा कि ग्राम डढोली में मकान के क्षतिग्रस्त होने की कोई लिखित सूचना अभी तक प्राप्त नहीं हुई है। सूचना मिलने पर क्षेत्र के पटवारी को मौके पर भेजा जाएगा। ताकि मौका मुआयना करा वास्तविक क्षति का आकलन किया जा सके।

You May Like This

LEAVE A REPLY