वन कर्मियों पर तस्करों ने की फायरिंग, एक घायल

0
108

बाजपुर में खैर के पेड़ पर आरी चला रहे तस्करों को घेराबंदी कर दबोचने का प्रयास कर रही वन विभाग की टीम पर तस्करों ने फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में एक वन कर्मी घायल हो गया है। टीम में शामिल अन्य लोगों ने पेड़ों की आड़ लेकर जान बचाई।

जवाबी कार्रवाई करते हुए टीम ने एक तस्कर को दबोचने की कोशिश की लेकिन वह अपने को छुड़ाकर फरार हो गया। टीम ने मौके से बिना नंबर की तीन बाइक समेत खैर गिल्टे व औजार कब्जे में ले लिए। इस मामले में एक आरोपी को नामजद करते हुए कालाढूंगी थाने में घटना की तहरीर दी गई है।

बरहैनी रेंज के रेंजर हरीश राम आर्य के मुताबिक शनिवार की रात वन वीट अधिकारी बरहैनी शेर सिंह बोहरा के नेतृत्व में वन कर्मियों की टीम रात्रि गश्त पर थी। मुखबिर खास द्वारा खैर के पेड़ काटने की सूचना पर तस्करों को दबोचने के उद्देश्य से टीम बाजपुर-कालाढूंगी मार्ग के किनारे छिपकर बैठ गई।

टॉर्च से रोशनी करने पर भागने लगे तस्कर

वन क्षेत्र के अंदर शमशान घाट के रास्ते से एक मोटर साइकिल जाते हुए दिखी। इसके करीब 10 मिनट बाद एक पेड़ के गिरने की आवाज आई। इस पर वन कर्मियों की टीम मौके की और दौड़ी। मौके पर पहुंचे तो तीन बाइकों पर खैर के लट्ठे रख जा रहे थे। वन कर्मियों की टीम को देखते ही तस्करों ने एकाएक फायरिंग शुरू कर दी। टॉर्च से रोशनी करने पर तस्कर भागने लगे।

इनमें से एक आरोपी की पहचान देशराज उर्फ देशी पुत्र ज्ञान सिंह निवासी जबरान के रूप में हो पायी। टीम ने उसे दबोचना चाहा, लेकिन वह भी अपने चार अन्य साथियों के साथ भागने में सफल रहा। फायरिंग में गश्ती दल के सदस्य बन्नाखेड़ा वन क्षेत्र में तैनात रोपण रक्षक संदीप सिंह पुत्र जगीर सिंह निवासी हुलसनगंज के माथे, हाथ व पांव में कई छर्रे लग गए। उसे उपचार के लिए हल्द्वानी स्थित सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

You May Like This

LEAVE A REPLY