कांग्रेसियों ने किया नगर आयुक्त का घेराव, उग्र आंदोलन की दी चेतावनी

0
74

देहरादून नगर निगम क्षेत्र में कांग्रेसियों ने ठप पड़े विकास कार्य और मलिन बस्तियों के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई से नाराजगी जताते हुए नगर आयुक्त का घेराव किया। उन्होंने मलिन बस्तियों के खिलाफ कार्रवाई बंद करने की मांग की। साथ ही मांगों पर विचार न किए जाने पर कांग्रेसियों ने उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

पूर्व विधायक राजकुमार के नेतृत्व में कांग्रेसी पार्षद व कार्यकर्ता नगर निगम परिसर पहुंचे और निगम प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद कांग्र्रेसी नगर आयुक्त कक्ष में पहुंचे और नगर आयुक्त विजय कुमार जोगदंडे के समक्ष समस्याएं रखीं।

गरीबों का कार्रवाई के नाम पर हो रहा शोषण

पूर्व विधायक राजकुमार ने आरोप लगाया कि नगर निगम मलिन बस्तियों में रह रहे गरीबों का कार्रवाई के नाम पर शोषण कर रहा है। जिन मलिन बस्तियों को हटाने की बात हो रही है वो 1992 से टैक्स दे रहे हैं। अचानक दो वर्ष से टैक्स खत्म करके उन्हें हटाने का फैसला न्यायसंगत नहीं है। कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार भी मलिन बस्तियों के नियमतीकरण के संबंध में आदेश जारी कर चुकी थी।

इसके अलावा उन्होंने वार्डों में विकास कार्य बाधित होने पर भी नाराजगी व्यक्त की। कहा कि कई वार्डों में विकास कार्यों के टेंडर जारी हो चुके हैं, लेकिन इसके बाद प्रक्रिया बाधित है। यही नहीं, वार्डों में सफाई व्यवस्था भी चरमराई हुई है। स्ट्रीट लाइट खराब हैं। उन्होंने नगर आयुक्त को ज्ञापन सौंपा और नगर की व्यवस्थाओं में जल्द सुधार लाने की मांग की।

साथ ही चेताया कि अगर जल्द प्रभावी कदम नहीं उठाए गए तो वे आंदोलन करेंगे। प्रदर्शन करने वालों में लालचंद शर्मा, डॉ. विजेंद्र पाल, अशोक कोहली, राजेश चैधरी, पार्षद आनंद त्यागी, अर्जुन सोनकर, प्रकाश नेगी ,देवेंद्र पाल सिंह समेत कई अन्य शामिल रहे।

You May Like This

LEAVE A REPLY