हथियारबंद बदमाशों ने व्यापारी को बंधक बनाकर की लूटपाट

0
121

नवाबी रोड पर कुलयालपुरा के गली नंबर आठ की प्रगति विहार में स्थित स्वास्तिक सेल्स एंड खुशी इंटरप्राइजेज के स्वामी सौरभ कौशल के घर और दुकान में बीती रात डकैतों ने धावा बोल दिया। पिस्टल और चाकुओं के बल पर पांच डकैतों ने सौरभ समेत उनके नोकर प्रकाश और प्रकाश के रिश्तेदार को बंधक बना लिया।

सीसीटीवी कैमरे में दिखी एक संदिग्ध कार

बदमाश घर ओर दुकान खंगालकर करीब साढ़े चार लाख रुपये और 15 तोला सोने के जेवरात ले गए। देर रात बंधक से मुक्त होने पर पुलिस तक मामला पहुचा तो हड़कंप मचा। पुलिस को यूपी 14 नंबर की एक संदिग्ध कार सीसीटीवी कैमरे में दिखी है।

सौरभ अग्रवाल की शहर और आसपास के कई होटलों में डेयरी प्रोडेक्ट की सप्लाई है। इसके अलावा उनके पास करीब एक दर्जन डेली प्रोडक्ट की एजेंसी भी है। दुकान के पीछे से हिस्से में उनका घर है। सौरभ ने बताया कि करीब 10ः30 बजे वो स्कूटी अंदर कर रहे थे। इसी दौरान दो युवक आये और खुद को क्राइम ब्रांच का बताने लगे।

इसमें एक ने मिलेट्री टोपी पहनी थी। गेट से घर के दरवाजे तक पहुंचते ही दोनों ने सौरभ पर पिस्टल तान दी और कमरे में ले गए। इतने में ही दो और बदमाश चाकू लेकर अंदर आ गए। बदमाशो ने सौरभ समेत उनके नोकर प्रकाश और प्रकाश के साले आकाश को कपड़ो से बाध दिया।

उन्होंने प्रकाश और आकाश को जमकर पीटा और सौरभ से कमरों की चाबी ले ली। इसके बाद एक बदमाश और पहुंच गया। दो बदमाश कारोबारी समेत तीनों पर नजर रखे रहे, जबकी तीन ने घर और दुकान खंगालना शुरू कर दिया।

करीब सवा 11 बजे बदमाश डकैती की वारदात को अंजाम देकर भाग गए। पांच मिनट बाद कपड़े की गांठे खोलकर सौरभ ने 100 नंबर मिलाया। फोन नही उठने पर सौरभ ने काशीपुर में रहने वाले अपने साले मयंक शर्मा को फोन कर घटना से अवगत कराया। मयंक ने 108 नंबर पर फोन किया तो वहां से पहले देहरादून पुलिस कंट्रोल रूम और फिर हल्द्वानी कंट्रोल रूम की लाइन जोड़कर बात कराई गई। देर रात एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव समेत पुलिस टीम में मौका मुआयना किया।

You May Like This

LEAVE A REPLY