अनियंत्रित होकर 100 मीटर खाई में गिरी आल्टो कार, सात लोग घायल

0
19

भवाली-अल्मोड़ा रोड पर निगलाट के पास आल्टो कार अनियंत्रित होकर 100 मीटर खाई में जा गिरी। हादसे में कार सवार अल्मोड़ा धौलछीना निवासी सात लोग घायल हो गए। घायलों में दो बच्चे भी शामिल हैं। स्थानीय लोगों ने घायलों को खाई से बहार निकालकर पुलिस की मदद से भवाली के समुदायिक अस्पताल में भर्ती कराया। जहा से प्राथमिक उपचार के बाद सभी को छुट्टी दे दी गई।

रविवार को हिमाशु महरा (उम्र)22, विमला देवी उम्र 50, बचुली देवी उम्र 75, भगवती उम्र 40, सुनीता उम्र 35, दिनेश उम्र 10, पायल उम्र 12 ऑल्टो 800 कार में सवार होकर अल्मोड़ा की ओर जा रहे थे। शाम पांच बजे उनकी कार निगलाट पर अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। 108 एंबुलेंस की मदद से घायलों को भवाली अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहा पर चिकित्सकों ने उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी।

बगैर अनुमति ड्रोन उड़ाने वाले को नोटिस

द्वाराहाट में ऐतिहासिक स्यालदे बिखौती मेले के दौरान बगैर अनुमति ड्रोन उड़ाए जाने के मामले में पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार ड्रोन किसने उड़वाया, शिनाख्त कर ली गई है। वह बाहर का बताया जा रहा। हालांकि इसे गोपनीय रखा गया है। अलबत्ता वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि संबंधित व्यक्ति को नोटिस भेजा जा रहा है।

पौराणिक द्वारका में बिखौती मेले में ओड़ा भेंटने की रश्म के दौरान मुख्य कार्यक्रम स्थल के ऊपर बीते शनिवार को ड्रोन मंडराने लगा था। चूंकि ड्रोन उड़ाने की अनुमति न तो किसी ने ली थी, ना ही पुलिस या प्रशासन की ओर से इजाजत ही दी गई थी, लिहाजा तंत्र सकते में आ गया। उप जिलाधिकारी रजा अब्बास ने पुलिस व प्रशासन के उच्चाधिकारियों को अवगत करा तत्काल जांच बैठा दी थी। इधर पुलिस सूत्रों ने बताया कि बगैर अनुमति खचाखच भरे मेला स्थल के ऊपर ड्रोन उड़ाने वाले की शिनाख्त कर ली गई है। हालांकि वह कौन है, ड्रोन उड़ाने का मकसद क्या रहा, इसे गोपनीय रखा गया है।

You May Like This

LEAVE A REPLY