निपाह के प्रकोप को लेकर उत्तराखंड में भी अलर्ट

0
53

केरल में निपाह वायरस के प्रकोप के बीच उत्तराखंड से कुछ किमी दूर हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के एक स्कूल में 18 चमगादड़ मरे मिले हैं। जिससे उत्तराखंड का स्वास्थ्य महकमा भी सकते में है। उत्तराखंड-हिमाचल सीमा पर अलर्ट जारी किया गया है।

स्वास्थ्य महानिदेशक अर्चना श्रीवास्तव के अनुसार, एहतियातन कदम उठाए जा रहे हैं। सभी चिकित्सा अधिकारियों को केरल में निपाह वायरस के प्रकोप व हिमाचल प्रदेश में चमगादड़ मृत मिलने के संभावित खतरे को देखते हुए सतर्क रहने को कहा गया है। बुखार व समान लक्षण वाले लोगों की रक्त की जांच प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश के साथ देहरादून जिले के साथ सीमा साझा करता है और निकटतम कस्बा हरबर्टपुर है। कहा कि उत्तराखंड में निपाह को लेकर चिंता की कोई बात नहीं है। हिमाचल में मृत मिले चमगादड़ों के रक्त के नमूने राष्ट्रीय विज्ञान संस्थान, पुणे भेजे गए हैं।

तेजी से उभरता वायरस है निपाह

बता दें कि निपाह तेजी से उभरता वायरस है, जो जानवरों और इंसानों में गंभीर बीमारी को जन्म देता है। वायरस का मुख्य स्रोत चमगादड़ हैं, जिन्हें फ्रूट बैट भी कहा जाता है। इसके लक्षण दिमागी बुखार की तरह ही हैं। बीमारी की शुरुआत सांस लेने में दिक्कत, भयानक सिर दर्द और फिर बुखार से होती है। इसके बाद दिमागी बुखार आता है। अब तक इसकी कोई वैक्सीन नहीं है। इसका एकमात्र इलाज यही है कि संक्रमित व्यक्ति को डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में रखा जाए।

You May Like This

LEAVE A REPLY