युवाओं से आस … नदियों के पुनर्जीवीकरण के लिए

मुख्यमंत्री ने कहा, हम सबको मिलकर जल संरक्षण की दिशा में करने होंगे प्रयास

0
50
Read This Also

रिपोर्ट ... क्रांति मिशन डॉट काम
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को परेड ग्राउंड देहरादून में मैड संस्था द्वारा नदियों के पुनर्जीवन के उद्देश्य से आयोजित मैराथन -2018 को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल संरक्षण एवं संवर्द्धन की दिशा में हम सबको मिलकर प्रयास करने होंगे। जन सहयोग से हरेला पर्व के अवसर पर रिस्पना और कोसी नदी के किनारे साढ़े तीन लाख पौधे लगाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि युवाओं को नदियों के पुनर्जीवीकरण के लिए आगे आना होगा। मैड संस्था ने बच्चों की ऊर्जा को सही दिशा देने का रचनात्मक कार्य किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि रिस्पना एवं कोसी नदी को पुनर्जीवित कर हमें देश के समक्ष रोल मॉडल बनाना होगा। यह कार्य जन सहयोग से ही पूरा किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इन नदियों के पुनर्जीवन के लिए सरकार को समाजिक संस्थाओं, विभिन्न संगठनों एवं स्थानीय जनता का पूरा सहयोग मिल रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ गंगा मिशन को सफल बनाने के लिए हमें पूरा सहयोग करना होगा। नमामि गंगे के तहत 25 हजार करोड़ रूपये इस प्रोजेक्ट में रखे गये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून को पूर्ण ग्रेविटि का पानी उपलब्ध कराने के लिए अगले वर्ष तक सौंग बांध की नीव रखी जायेगी। राज्य सरकार द्वारा ईको सिस्टम, पर्यावरण सरंक्षण, जल संरक्षण, नदियों के पूनर्जीवीकरण व स्थानीय उत्पादों पर आधारित स्वरोजगार के अवसर विकसित करने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस अवसर पर मैड संस्था के अभिजय नेगी भी उपस्थित थे।

You May Like This