‘बरसात के मौसम में खुद की सुरक्षा का ख्याल रखें बिजली कर्मी’

सुरक्षा उपकरण पहनें तभी बिजली के खंभों पर चढें कर्मचारी: एमडी पावर कार्पोरेशन

0
1752
Read This Also

रिपोर्ट ... क्रांति मिशन डॉट काम
देहरादून। अक्सर बरसात के मौसम में विद्युत पोलों में कार्य करते वक्त करंट पकडने से कर्मचारियों के हताहत होने की सूचनाएं आते रहती हैं। इस तरह के हादसों पर काबू पाने के लिए पावर कार्पोरेशन इस बार पहले से ही अलर्ट हो गया है। कर्मचारियों को फाल्ट ठीक करने के लिए बिजली के खंभों पर चढने से पहले सुरक्षा उपकरण पहनने के लिए इस बार विभाग की ओर से पहले ही अलर्ट जारी कर दिया गया है।
एमडी पावर कार्पोरेशन बीसीके मिश्रा ने कहा कि सोमवार को इस बावत कर्मचारियों और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए है। मिश्रा का कहना है बरसात का मौसम आने वाला है। इसलिए फाल्ट आने पर बिजली कर्मचारी कार्य करते वक्त अपनी सुरक्षा का विशेष ख्याल रखें। मिश्रा ने कहा बिजली कर्मी फाल्ट इत्यादि दुरूस्त करते वक्त सुरक्षा उपकरण अवश्य पहनें ताकि हादसों से बचा जा सके। उन्होंने आम जनता को सुरक्षित रखते हुए बेहतर विद्युत आपूर्ति उपलब्ध करने के लिए भी अधिकारियों और कर्मचारियों को दिशा निर्देश दिए।

उपकेंद्र परिचालकों-कार्मिको से अपील

  • किसी पोषक के अर्थ फाल्ट पर ट्रिप होने पर कुछ देर उपभोक्ताओं के काल रिसीव करें, यदि कोई ब्रेकडाउन की सूचना न मिले तो फीडर की एक ट्राई लें। यदि पुनः अर्थ फाल्ट फ्लैग पर फीडर ट्रिप हो तो, बिना पेट्रोलिंग कराए फीडर चालू न करें।
  • किसी प्रकार के तार टूटने, आग लगने, करंट आने या विद्युत दुर्घटना होने की सूचना मिलने पर तत्काल संबंधित पोषक बन्द कर दें।
  • सुरक्षा उपकरणों का यथासंभव उपयोग करते हुए ही विद्युत तंत्र पर कार्य करना सुनिश्चित करें।
  • किसी भी विद्युत तंत्र को बिना अर्थ किये कार्य न करें।
  • उपकेंद्र परिचालक प्रत्येक शटडाउन पर फीडर की ट्राली डाउन-बाहर निकलना सुनिश्चित करें।
  • उपकेंद्र परिचालक शटडाउन देते समय पोषक का नाम दो-तीन बार बोलकर पोषक सुनिश्चित कर लें।

उपभोक्ताओं से अपील

  • किसी प्रकार के टूटे हुए तार को न छूएं, इसकी सूचना तत्काल टोल फ्री नम्बर 1912 अथवा संबंधित उपकेंद्र पर दें।
  • बरसात में किसी भी पोल, स्टे सेट अथवा ट्रांसफॉर्मर की जाली से दूर रहे, उन्हें न छुएं।
  • आपके आसपास के क्षेत्रों में किसी विद्युत तंत्र में आग लगने, करंट आने या कोई अप्रिय घटना घटने पर तत्काल उसकी सूचना टोल फ्री नम्बर 1912 अथवा संबंधित उपकेंद्र पर दें।
  • आंधी-बरसात में विद्युत व्यवधान की संख्या में वृद्धि हो जाती है, जिसे प्राथमिकता पर लाइन स्टाफ द्वारा निरंतर ठीक किया जाता है, ऐसी स्थिति में उपभोक्ताओं द्वारा लाइन स्टाफ को बार-बार फोन किये जाने से किसी प्रकार की अप्रिय घटना होने की संभावना बढ़ जाती है, अतः मानव जीवन सुरक्षा की दृष्टि से ऐसा करने से बचें।
You May Like This