बधाई हो … उत्तराखंड क्रिकेट को बीसीसीआई से मिली मान्यता

घरेलू सत्र में खेल सकेंगे उत्तराखंड के खिलाड़ी एक वर्ष के लिए नौ सदस्यीय ‘उत्तराखंड क्रिकेट कन्सेंसस कमेटी’ देखेगी कामकाज

0
128
Read This Also

रिपोर्ट … page3news.co.in
देहरादून। उत्तराखंड राज्य बनने के 18 साल बाद सोमवार को राज्यवासियों के हाथ बडी खुशी लगी है। उत्तराखंड क्रिकेट को मान्यता मिलने का सूखा खत्म हो गया। 18 वर्ष से चल रही बीसीसीआई से मान्यता मिलने की मुराद पूरी हो गयी है। उत्तराखंड क्रिकेट एसोसएशन के द्वारा सर्वोच्च न्यायालय में बीसीसीआई की प्रशासक समिति के सम्मुख मान्यता का दावा करने वाली उत्तराखंड की सभी चार क्रिकेट एसोसिएशनों के द्वारा सर्वसम्मति से प्रस्तुत प्रस्ताव प्रस्तुत किया, इसे स्वीकार कर लिया गया। इसके बाद उत्तराखंड क्रिकेट को बीसीसीआई से मान्यता का रास्ता साफ हो गया। स्वीकृत प्रस्ताव के मिनट्स के अनुसार सभी एसोसिएशनों के दावों की बीसीसीआई के द्वारा विस्तार से जांच होने तक उत्तराखंड के खिलाड़ी अब क्रिकेट खेलने से वंचित नहीं रहेंगे, बल्कि वर्ष 2018-19 के घरेलू सत्र में खेल सकेंगे।
उत्तराखंड में क्रिकेट के संचालन के लिए नौ सदस्यीय ‘उत्तराखंड क्रिकेट कन्सेंसस कमेटी’ बनायी जाएगी, जिसमें बीसीसीआई से वित्तीय एवं क्रिकेट प्रशासन से जुड़े एक-एक सदस्य, एक सदस्य उत्तराखंड सरकार से नामित, दो-दो सदस्य उत्तरांचल क्रिकेट एसोसिएशन व क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड से तथा एक-एक सदस्य यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन व उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन से होंगे। कमेटी का कार्यकाल एक वर्ष अथवा मान्यता पर अंतिम निर्णय होने तक रहेगा। स्वीकृत प्रस्ताव में उत्तरांचल क्रिकेट एसोसिएशन के प्रदीप सिंह, आरएस चौहान, चंद्रकांत आर्या व मोहन बोरा, क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के रवि वर्मा, मनोज रावत, डा. राजेश कुमार तिवारी व माहिम वर्मा, यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुसांई, अवनीश वर्मा व रोहित चौहान तथ उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के दिव्य नौटियाल, अशोक बांबी, अंजू तोमर व एनएस नौटियाल ने हस्ताक्षर किये हैं। उत्तराखंड क्रिकेट को बीसीसीआई की मान्यता के लिए प्रयासरत भारतीय ओलंपिक संघ के महासचिव राजीव मेहता ने जानकारी देते हुए इस बहुप्रतीक्षित निर्णय पर खुशी जताई है। बता दें उत्तराखंड के देहरादून स्थित अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में इसी माह अफगानिस्तान एवं बांग्लादेश के बीच अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेले जा चुके हैं, जबकि हल्द्वानी स्थित स्टेडियम भी बनकर तैयार है। उधर, उत्तराखंड प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत में उत्तराखंड सरकार में खेल मंत्री अरविंद पांडे ने बताया कि इसी वर्ष से उत्तराखंड की रणजी ट्रॉफी टीम चुने जाने की भी संभावना बन गई है।

You May Like This